UPI kya Hai? UPI ID kaise banate hai?

Spread the love

नमस्कार दोस्तों हमारे वेबसाइट में आपका बहुत-बहुत स्वागत है। आज के इस आर्टिकल में हम लोग पढ़ने वाले हैं UPI PAYMENT system के विषय में। यहां हम लोग जानेंगे UPI kya hai? UPI ID kaise banate hai? UPI के क्या-क्या फायदे हैं? UPI का Full form क्या होता है? तो चलिए दोस्तों एक एक करके सभी विषयों पर जानकारियां प्राप्त कर लेते हैं।

UPI kya hai? UPI का Fullform क्या होता है?

UPI का  Fullform – Unified Payment Interface

UPI एक ऐसा पेमेंट का जरिया है, जहां पर आप किसी को भी तुरंत पैसे भेज सकते हैं। UPI कोई स्थापना National payments corporation of India द्वारा की गई है। यहां पर आप पैसे एक बैंक अकाउंट से दूसरे बैंक अकाउंट में भेज सकते हैं। यहां पर पैसों का लेनदेन बहुत ही जल्द होता है। UPI PAYMENT SYSTEM पूरी तरह से सुरक्षित होता है।

पूरे भारत में यह कुल 142 बैंक में UPI PAYMENT की सुविधा उपलब्ध है। UPI के जरिए पेमेंट करने के बहुत से फायदे हैं जो कि इसी आर्टिकल में आपको आगे पढ़ने को मिलेगा।

Note: India Post Payment Bank में भी अब UPI पेमेंट किया जा सकता है।

Google Pay UPI ID kaise banaye

UPI ID kaise banate hai?

दोस्तों यूपीआई आईडी बनाना बेहद आसान है। ऐसा करने के लिए आप अपने बैंक की एप्लीकेशन का इस्तेमाल कर सकते हैं। ज्यादातर सभी बैंक्स के अपने एप्लीकेशंस मौजूद हैं।

उनका इस्तेमाल करके आप अपना यूपीआई आईडी बना सकते हैं। लेकिन यहां पर ध्यान देने वाली बात यह है कि आप जिस भी मोबाइल नंबर से यूपीआई आईडी बनाने की सोच रहे हैं। वह मोबाइल नंबर आपके बैंक खाता के साथ लिंक होना अनिवार्य है। अगर ऐसा नहीं होता है तो आपका यूपीआई आईडी नहीं बन सकता है।

इसके साथ ही आप कई एप्लीकेशंस का इस्तेमाल करके अपना यूपीआईडी बेहद ही आसान तरीके से बना सकते हैं। उदाहरण: phone pe, Google pay, Amazon pay,etc के जरिए आप अपना यूपीआई आईडी बना सकते हैं।

Unified Payment Interface meaning in Hindi

लेकिन मैं आपको फिर बता दूं कि अगर आप इन एप्लीकेशंस के जरिए अपना यूपीआई आईडी बनाना चाहते हैं। तो जिस मोबाइल नंबर से आपने इस एप्लीकेशंस में अपना अकाउंट बनाए हैं। वह मोबाइल नंबर आपके बैंक के खाते के साथ लिंक होना जरूरी है। अगर ऐसा नहीं होता है तो आप अपना मोबाइल नंबर बैंक में जाकर लिंक जरूर करवाएं।

Upi use करने के महत्वपूर्ण फायदे?

तो चलिए दोस्तों यूपीआई इस्तेमाल करने के कुछ फायदों के बारे में जान लेते हैं। हमें यकीन है कि फायदों के बारे में जब आप जानोगे आप हैरान हो जाओगे।

1. Upi के जरिए अगर आप पेमेंट करते हैं। तो आपके पैसे एक बैंक अकाउंट से दूसरे बैंक अकाउंट में तुरंत ट्रांसफर हो जाता है। यहां पर बीच में कोई भी wallet काम नहीं करता है।

2. Transaction limit (within 24hrs)

BHIM APPLICATION (Government app)

Daily limit – 40,000₹
Transaction limit – 20000 ₹
Maximum 10 transaction per day

Merchant transaction में limit कोई नहीं है। ( इसका मतलब यह हुआ कि अगर आप शॉपिंग करते हैं या किसी मर्चेंट को पेमेंट करते हैं, तो उसका कोई लिमिट नहीं है।)

UPI full form in hindi paytm

Private company application

Daily limit – 1 Lakh
Transaction limit – 1 Lakh
Merchant payment – no limit

Merchant transaction में limit कोई नहीं है। ( इसका मतलब यह हुआ कि अगर आप शॉपिंग करते हैं या किसी मर्चेंट को पेमेंट करते हैं, तो उसका कोई लिमिट नहीं है।)

3. Upi payment bank to bank होता है, जिसकी वजह से आपको आपके पैसों का ब्याज मिलता है। यही अगर आप वॉलेट में पैसे रखते हैं तो उसका आपको कोई ब्याज नहीं मिलता है।

UPI account number adress

 

4. UPI PAYMENT 24X7 होता है। चौबीसों घंटे सातों दिन कभी भी आप किसी को भी पैसे भेज सकते हैं।

5. Digital wallets की तरह upi payment system में आप तुरंत पैसे भेज सकते हैं। यहां पर आपके पैसे इंसटैंटली जाता है। यह नेट बैंकिंग से बहुत ही ज्यादा बेहतर होता है। नेट बैंकिंग के थ्रू अगर आप किसी को पैसे भेज रहे हैं तो सबसे पहले आपको beneficiary account सेव करना होगा।

दोस्तों यह करना आसान नहीं होता है। कुछ बैंक्स इसे अप्रूव करने में 24 घंटे तक लगा सकते हैं। यानी कि अगर आपको किसी को पैसे भेजने हैं तो आपको 24 घंटे तक वेट करना होगा। यूपीआई में ऐसा नहीं है आप तुरंत किसी को भी पैसे भेज सकते हैं।

6. Multiple payment modes – दोस्तों यहां पर आपको कई तरीके का पेमेंट सिस्टम मिल जाता है।
Registered mobile (number with upi ID)
Aadhar number
UPI barcode
UPI ID
Bank account + IFSC code

ऊपर बताए गए सभी तरीके बिल्कुल मुफ्त है। किसी भी ट्रांजैक्शन में आपको किसी भी प्रकार का कोई भी पैसा नहीं लगेगा। यह पूरी तरह से सुरक्षित एवं फ्री है।

7. Upi payment system के मदद से आप बहुत कुछ कर सकते हैं। उदाहरण : अपने दोस्तों और रिश्तेदारों को पैसे भेजने के अतिरिक्त और भी कई काम आप कर सकते हैं। बिल पेमेंट, मोबाइल रिचार्ज, डीटीएच रिचार्ज, इलेक्ट्रिसिटी बिल,वॉटर बिल, रेंट, आदि। ऑनलाइन या ऑफलाइन शॉपिंग में आप पेमेंट कर सकते हैं।

8. UPI PAYMENT पूरी तरह से सुरक्षित होता है। यहां पर आपके पैसे एक बैंक अकाउंट से दूसरे बैंक अकाउंट पर सीधे तरीके से जाता है। यहां पर गलती होने की संभावना बिल्कुल भी नहीं है। उदाहरण : यहां पर अगर आपको किसी को पैसे भेजने हैं तो उस इंसान का यूपीआई आईडी आपको लिखना होगा। यूपीआई आईडी लिखने के बाद आपको उसे वेरीफाई करना होगा। वेरीफाई होते ही उस व्यक्ति का नाम वहां पर दिखेगा।

इससे आप यह पता लगा सकते हैं कि यह अकाउंट किसका है। फिर आप पेमेंट कर सकते हैं। आप चाहे तो यूपीआई आईडी को सेव भी करके रख सकते हैं। जब आपको दोबारा पेमेंट करना हो तो सिर्फ उस व्यक्ति के नाम पर क्लिक करके आप पेमेंट कर सकते हैं।

9. यहां पर आप पैसे भेजने के साथ-साथ पैसे मांग भी सकते हैं। लेकिन यहां पर आप सिर्फ ₹2000 तक ही किसी से रिक्वेस्ट कर सकते हैं।

10. अगर आप Google pay या Phone pe जैसे प्राइवेट एप्लीकेशंस का इस्तेमाल करते हैं। तो आप अपने मन मुताबिक जितने चाहे उतने बैंक अकाउंट ऐड कर सकते हैं (एक ही यूपीआई आईडी में)। सीधे शब्दों में कहा जाए तो एक एप्लीकेशन के जरिए आप अपने सभी बैंकों से पैसे ट्रांसफर कर सकते हैं।

यूपीआई कैसे बनाते है

11. अपने सभी बैंकों के बैंक बैलेंस चेक कर सकते हैं।

12. UPI PAYMENT के जरिए आपको बहुत से फायदे होने वाले हैं। आपको कहीं पर भी पेमेंट करने के लिए कैश ले जाने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी। कैशलेस ट्रांजैक्शन की बढ़ोतरी होने वाली है।जैसे जैसे कैशलेस Transaction बढ़ेंगे वैसे वैसे हिंदुस्तान में ब्लैक मनी कम होगी। इस तरह से यूपीआई पेमेंट करके आप देश सेवा कर सकते हैं।

निष्कर्ष

UPI kya hai? के विषय में अब तो आपको बहुत सी जानकारियां प्राप्त हो गई होंगी। UPI के जरिए पेमेंट करने के फायदों के बारे में आप जान गए होंगे। तो दोस्तों का अंत में मैं आप सभी से यही गुजारिश करूंगा कि आप ज्यादा से ज्यादा ऑनलाइन ट्रांजैक्शन करें। कैश का इस्तेमाल कम से कम करें।

तो दोस्तों आपको हमारा यह आर्टिकल “UPI kya Hai? UPI ID kaise banate hai”? कैसा लगा आप हमें नीचे कमेंट सेक्शन में जरूर बताएं। अगर अच्छा लगा हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें।इसी तरह के कमाल के आर्टिकल्स पढ़ने के लिए हमारे वेबसाइट पर विजिट करते रहें।


Spread the love

K.M is the Author & Founder of the techhelphindi. He has also completed his graduation in Mechanical Engineering from Noida (UP). I'm Blogger,Youtuber & Engineer.

Leave a Comment